Subject

NCERT Solutions for Class 6th Science Chapter 9 सजीव एवं उनका परिवेश

NCERT Solutions for Class 6th Science Chapter 9 सजीव एवं उनका परिवेश

NCERT Solutions for Class 6 Science Chapter 9 सजीव एवं उनका परिवेश – यदि कोई विद्यार्थी छठी कक्षा में है, तो उसका सपना है कि छठी कक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करें ताकि उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए फॉर्म भरने में आसानी होगी। यही कारण है कि आज इस पोस्ट में हमने एनसीईआरटी कक्षा 6 का विज्ञान अध्याय 9 (सजीव एवं उनका परिवेश) को सरल भाषा में संक्षिप्त रूप से प्रस्तुत किया है।क्योंकि विद्यार्थी अक्सर किताब को समझ नहीं पाते।इसलिए यहाँ NCERT Solutions for Class 6th Chapter 9 The Living Organisms Characteristics and Habitats हैं। इसे छठी कक्षा के विद्यार्थियों को देखना चाहिए। परीक्षा में इसकी मदद से आप अच्छे अंक पा सकते हैं। यही कारण है कि Ch.9 सजीव एवं उनका परिवेश प्रश्नोत्तरों को ध्यान से पढ़िए; यह आपके लिए लाभदायक होगा।

पाठ्य-पुस्तक के अभ्यास के प्रश्नों के उत्तर

प्रश्न 1. आवास क्या है?

उत्तर- किसी स्थान का वातावरण जिसमें पौधे, जंतु और अन्य जीव रहते हैं, उनका आवास कहलाता है।

प्रश्न 2. मरुस्थल में कैक्टस जीवित रहने के लिए किस प्रकार अनुकूलित है?

उत्तर- कैक्टस मरुस्थल के जीवन को निम्नलिखित ढंग से अनुकूलित किया गया

(i) कैक्टस की पत्तियाँ या तो बहुत छोटी होती हैं या पूरी तरह से नहीं होती हैं।
(ii) कई बार पत्तियाँ शूल या काँट बन जाती हैं, जिससे पत्तियों का वाष्पोत्सर्जन कम हो जाता है।
(iii) जल संरक्षण में मदद करने के लिए कैक्टस में तना एक मोटी मोमी पर्त (waxy coating) से ढका होता है।
(iv) कैक्टस पौधे की जड़ें जल को अवशोषित करने के लिए मिट्टी में बहुत गहराई तक जाती हैं।

प्रश्न 3. रिक्त-स्थानों की पूर्ति कीजिए :

(क) पौधे एवं जंतुओं में पाए जाने वाले विशिष्ट लक्षण जो उन्हें आवास विशेष में रहने योग्य बनाते हैं, …………… कहलाते हैं।
(ख) स्थल पर पाए जाने वाले पौधों एवं जंतुओं के आवास को …………… आवास कहते हैं।
(ग) वे आवास जिनमें जल में रहने वाले पौधे एवं जंतु रहते हैं, ………….. आवास कहलाते हैं।
(घ) मृदा, जल एवं वायु किसी आवास के …………… घटक हैं।
(ङ) हमारे परिवेश में होने वाले परिवर्तन जिनके प्रति हम अनुक्रिया करते हैं, …………… कहलाते हैं।

उत्तर- (क) अनुकूलन (ख) स्थलीय (ग) जलीय  (घ) अजैव (ङ) उद्दीपन।

प्रश्न 4.  निम्नलिखित सूची में निर्जीव वस्तुओं का क्या नाम है? हल, छत्रक, रेडियो, नाव, जलकुंभी, केंचुआ

उत्तर: निर्जीव वस्तुएँ, जैसे हल, सिलाई मशीन, रेडियो और नाव

प्रश्न 5.  किसी निर्जीव वस्तु का उदाहरण दीजिए जो सजीवों के दो लक्षणों को प्रदर्शित करती है।

उत्तर: बादल जीवित है और स्थानांतरित होता है।

प्रश्न 6. निम्नलिखित में से कौन-सी निर्जीव वस्तुएँ पहले सजीव का हिस्सा थीं?
चमड़ा, मृदा, ऊन, बिजली का बल्ब, खाद्य तेल, नमक, सेब, रबड़ और मक्खन

उत्तर- मक्खन, चमड़ा, ऊन, खाद्य तेल, सेब, रबड़ और अन्य निर्जीव वस्तुएँ जो पहले सजीव का हिस्सा थीं

प्रश्न 7. संजीवों के कुछ विशिष्ट लक्षण बताएं।

उत्तर- सजीवों के विशिष्ट लक्षण (i) वृक्ष होना
(ii) ये गति प्रदर्शित करते हैं।
(iii) भोजन उन्हें अपनी जैव प्रक्रियाओं के लिए चाहिए।
(iv) ये बाहरी धूल के प्रति चिंतित हैं।
(v) ये श्वसन को दिखाते हैं।
(vi) ये अपने शरीर से विषाक्त पदार्थ निकालती हैं।
(vi) इनका एक निश्चित अवधि है।
(viii) ये जन्म देते हैं, यानी अन्य जीवों को जन्म देते हैं।
(ix) इनके शरीर कोशिकीय हैं।

प्रश्न 8.  घास के मैदानी क्षेत्रों में रहने वाले जीवों को तीव्र गति क्यों चाहिए? (संकेत-घास क्षेत्र में छिपने के लिए बहुत कम वृक्ष हैं।)

उत्तर- जंतुओं की गति का महत्व—घास के मैदानों में जंतुओं और पेड़ों की संख्या कम होती है। शिकारियों से बचने और जीवित रहने के लिए पशुओं को तेजी से भागना होगा। इसके लिए प्रकृति ने उन्हें मज़बूत टाँगें, लंबे कान और आँखें दी हैं।

सजीव एवं उनका परिवेश के महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न 1. क्या वातावरण है?
उत्तर- वातावरण हमारे आसपास विद्यमान है। इसलिए वातावरण हमारी जीवनशैली है। यही कारण है कि वातावरण वह सब कुछ है, जो हमें सीधे या दूसरे तरीके से प्रभावित करता है।

प्रश्न 2. वातावरण और परिवेश में क्या अंतर है?
उत्तर- वातावरण-परिवेश शब्द हमारे वर्तमान स्थान का अर्थ है। वातावरण: वातावरण हर जीवित वस्तु को घेरता है और प्रभावित करता है।

प्रश्न 3. क्या पृथ्वी पर कोई जगह ऐसी है जहां कोई जीव नहीं होता?
उत्तर: पृथ्वी पर हर जगह जीव हैं। हमारे आसपास असंख्य जीव हैं। जीवों का आवास जल, वायु और जल में है। सूक्ष्मजीव भी ज्वालामुखी के मुख में होते हैं।

प्रश्न 4. समुद्र में पाया गया परिवेश क्या है?
उत्तर- समुद्र का जल लवणीय होता है। इस लवणीय जल में जंतु और पौधे होते हैं। लवणीय जल में रहने वाले जीव श्वसन करने के लिए जल में घुली ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं।

प्रश्न 5. मरुस्थलीय वातावरण का विवरण दें।
उत्तर- मरुस्थल में बहुत कम जल है। यहाँ दिन बहुत गर्म होते हैं और रात बहुत ठंडी होती है। भूमि पर रहने वाले मरुस्थलीय जीव श्वसन के लिए वायु से ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं।

प्रश्न 6. मरुस्थल का एक महत्वपूर्ण लक्षण क्या है?
उत्तर: यहां बहुत कम जल है।

प्रश्न 7.ऊंट के पैर कैसे बनाए जाते हैं?
उत्तर– लंबी और गोल।

प्रश्न 8. ऊंट को कम या अधिक पसीना आता है?
उत्तर– कम

प्रश्न 10. मछली का शरीर क्या है?
उत्तर- पश्चिमी धारारेखीय

प्रश्न 10.अनुकूलन का समय कितना लगता है?
उत्तर- अनुकूलन तुरंत नहीं होता। अनुकूलित होने में हजारों वर्ष लगते हैं। जीवों को अपने आसपास हो रहे बदलावों को समझने में समय लगता है। प्राणियों की मौत होती है अगर वे अपने आप को बदल नहीं सकते।

प्रश्न 11. गहरे बिलों में चूहे और सांप मरुस्थल में क्यों रहते हैं?
उत्तर- ऊंट की तरह लंबे पांव नहीं होने के कारण  चूहे और सांप जमीन के अंदर गहरे बिलों में रहते हैं। ये जंतु रात्रि में तापमान में कमी से बाहर निकलते हैं।

प्रश्न 12. मोटा कैक्टस का तना क्यों होता है और हरित रंग क्यों होता है?
उत्तर- कैक्टस एक मरुद्भिद है जहां बहुत कम पानी है। कैक्टस के पत्ते अधिक वाष्पोत्सर्जन नहीं करते, इसलिए ये कांटों में बदल जाते हैं, जो प्रकाश-संश्लेषण क्रिया से अपना भोजन नहीं बना पाते। अतः पौधे को भोजन देने के लिए तना हरे रंग का हो जाता है। यहाँ भोजन और पानी एकत्रित होते हैं, इसलिए तना मोटा और हरित हो जाता है।

प्रश्न 13. क्या कारण है कि पहाड़ी इलाकों में खजूर और नारियल के पत्ते सूई के आकार के होते हैं?
उत्तर- पश्चिमी क्षेत्रों में पवनें जल्दी बहती हैं। चीड़ के वृक्ष त्रिकोणाकार होते हैं, जबकि नारियल के पत्ते सूई के आकार के होते हैं, जिससे पवनों का प्रभाव कम होता है। नारियल और खजूर के पत्ते भी कटे-फटे होते हैं, लेकिन तेज हवा उन पर कम असर करती है।

प्रश्न 14: कैक्टस के तने पत्तों में रूपांतरण क्यों होता है और इसके पत्तों को क्या होता है?
उत्तर- कैक्टस की वनस्पति प्रायः रेगिस्तानों में उगती है। रेगिस्तान में बहुत कम पानी है। कैक्टस के तने का पत्तों में रूपांतरण का मुख्य उद्देश्य दो है: भोजन बनाना और इकट्ठा करना। कैक्टस पर पत्ते नहीं होने से जल का वाष्पण कम होता है, और पौधे की रक्षा करने वाले कांटे और तना ही पत्ती होते हैं, जो हरे होकर भोजन बनाने में भी सहायता करते हैं।

प्रश्न 15. कैक्टस क्यों मरुस्थलीय पौधा है? सोचिए।
उत्तर- कैक्टस शुष्क जलवायु वाले क्षेत्रों में रहता है। इन्हें जीवित रहने के लिए बहुत कम जल चाहिए। यही कारण है कि कैक्टस को मरुद्भिद या मरुस्थलीय पौधा कहा जाता है।

प्रश्न 16. पहाड़ों पर एक विशिष्ट आकृति का वृक्ष क्यों ग्रहण करता है?
उत्तर- पहाड़ों पर पवन के प्रकोप से बचने के लिए वृक्षों ने एक विशेष प्रकार की आकृति अपनाई है, जिसके कारण तेज पवनें इन वृक्षों को उखाड़ नहीं सकती, और कुछ वृक्षों के एक ओर ही टहनियां नहीं होती।

प्रश्न 17. पर्वतीय क्षेत्र का क्या अर्थ है? इस स्थान पर वृक्ष कैसे पाए जाते हैं?
उत्तर- ज्यादातर  पर्वतीय क्षेत्र बहुत ठंडे होते हैं। इनमें हवा चलती है। शीतकाल में कुछ जगह हिमपात भी होता है। यहां वृक्ष आम तौर पर शंक्वाकार हैं। इनकी शाखाएं गोल हैं। इनके पत्ते सूई की तरह हैं।

प्रश्न 18. हिमालयों में किस प्रकार के जंतु मिलते हैं?
उत्तर- सर्दी से बचने के लिए पर्वतीय क्षेत्रों में मोटी त्वचा और लंबे फर वाले जंतु पाए जाते हैं। पहाड़ी बकरी को ढालदार चट्टानों पर दौड़ने के लिए मजबूत खुर मिलते हैं। इन इलाकों में पहाड़ी तेंदुए, यॉक, भेड़ें और बकरियां पाई जाती हैं।

प्रश्न 19. कौन से अजैव घटक हैं?
उत्तर- जैविक में मिट्टी, वायु, जल और चट्टानें हैं।

प्रश्न 20. चूहे और सांप मरुस्थल में गहरे बिलों में क्यों रहते हैं?
उत्तर- हवा से बचने के लिए

प्रश्न 21 मरुस्थलीय पौधों के पत्ते कैसे बनाए जाते हैं?
उत्तर- छोटे और कंटीले हैं।

प्रश्न 22 नागफनी पौधे में प्रकाश संश्लेषण प्रक्रम कौन से भाग से होता है?
उत्तर- तने से।

प्रश्न 23 मरुस्थलीय पौधे के तने कौन-से पदार्थों से ढके होते हैं?
उत्तर- मोमी परत से निकलता है।

प्रश्न 24 डालफिन और व्हेल में गिल्ज नहीं होते, तो वे कैसे श्वसन करते हैं?
उत्तर: डालफिन और व्हेल में गिल्ज की जगह नासाद्वार या वात छिद्र होते हैं, जिससे वे श्वास लेते हैं। ये जल में लंबे समय तक श्वास नहीं लेते। ये जल की सतह से बार-बार निकलते हैं और श्वसन छिद्रों से जल निकालते हैं, जो स्वच्छ वायु को अंदर भरते हैं। .

प्रश्न 25 सूई आकार की पत्तियों वाले पहाड़ी वृक्षों का क्या लाभ है?
उत्तर: इससे वर्षा जल और हिम सरलता से नीचे की ओर बहते हैं।

प्रश्न 26. क्या मेंढक उभयचर होते हैं? क्या?
उत्तर- मेंढक जल में भी रह सकता है और जमीन पर भी रह सकता है। लंबे और मजबूत पश्चपाद मेंढक को शिकार करने और छलांग लगाने में सहायता करते हैं। जालयुक्त पादांगुलियां पश्चपाद में तैरने में मदद करती हैं। मेंढक फेफड़ों और त्वचा दोनों से श्वसन करता है। यही कारण है कि मेंढक उभयचर कहलाता है क्योंकि वे जल और जमीन दोनों पर रहते हैं।

प्रश्न 27. शेर में मटमैला हल्का भूरा रंग कैसे उपयोगी है?
उत्तर– यह  शिकार करते समय घास के सूखे क्षेत्रों में छिपने में फायदेमंद है।

प्रश्न 28. शिकारी से हिरण कैसे बचता है?
उत्तर- की तेज गति और दृश्यता के कारण

प्रश्न 29. ज्यादातर समुद्री जंतुओं का शरीर क्या है?
उत्तर- पश्चिमी धारारेखीय

प्रश्न 30. व्हेल और डालफिन सांस कैसे लेते हैं?
उत्तर- वात छिद्रों (इनमें गिल नहीं होते) द्वारा

प्रश्न 31. पौधे भोजन कैसे बनाते हैं?
उत्तर- हरे पौधे सूर्य की रोशनी में क्लोरोफिल बनाने के लिए मिट्टी से कुछ खनिज पदार्थ और जल और वायु से कार्बन-डाइऑक्साइड लेते हैं। इस प्रक्रिया का नाम प्रकाश-संश्लेषण है। मिट्टी और वायु से पौधे प्रकाश-संश्लेषण के लिए आवश्यक पदार्थ प्राप्त करते हैं। यह गुण पौधों को स्वपोषी कहता है, जबकि जंतु परपोषी हैं।

प्रश्न 32. पौधों के लिए प्रकाश-संश्लेषण क्रिया क्यों आवश्यक है?
उत्तर: जंतुओं की तरह पौधे भोजन की तलाश में नहीं घूमते, बल्कि एक ही जगह खड़े रहते हैं, जड़ों से खनिज और लवण अवशोषित कर पत्तों में एकत्रित करते हैं। प्रकाश-संश्लेषण क्रिया द्वारा पत्तियों में खनिज, जल और कार्बन-डाइऑक्साइड को मंड में बदल दिया जाता है। प्रकाश-संश्लेषण प्रक्रिया जटिल कार्बनिक यौगिकों का उत्पादन करती है, जो पौधे के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।

प्रश्न 33. पौधों और जंतुओं की वृद्धि में क्या फर्क है?
उत्तर- जंतुओं की वृद्धि निरंतर होती है। पुरुषों के बच्चे विकसित होकर व्यस्क हो जाते हैं। चूजा, जो मुर्गी के अंडे से निकलता है, वृद्धि कर व्यस्क मुर्गा या मुर्गी बन जाता है जब पौधे पूरे जीवन में बढ़ते रहते हैं। जबकि कुछ जंतुओं की वृद्धि वर्षों तक चल सकती है, कुछ जंतुओं की वृद्धि केवल कुछ घंटे ही होती है। कुछ वृक्ष जीवन भर वृद्धि करते रहते हैं और सैकड़ों वर्षों तक जीवित रहते हैं।

प्रश्न 34. श्वसन कहते हैं किसे?
उत्तर- श्वसन जीवों द्वारा वायु में से ऑक्सीजन ग्रहण करना है। श्वास कार्बन-डाइऑक्साइड गैस को बाहर निकालता है। शरीर श्वसन से ऊर्जा बनाता है। श्वसन प्रत्येक जीव के पास होता है।

इस पोस्ट में आपको class 6 chapter 9 science notes ncert class 6 science chapter 9 question answer ncert class 6 science chapter 9 pdf सजीव एवं उनका परिवेश Notes कक्षा 6 विज्ञान पाठ 9 के प्रश्न उत्तर सजीव एवं उनका परिवेश Notes से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है यदि आपको इसके बारे में कोई प्रश्न या सुझाव है, तो नीचे कमेंट करके हमसे संपर्क करें. इसके अलावा, अगर आपको यह जानकारी उपयोगी लगे तो इसे अपने दोस्तों से भी साझा करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button